Tue. Jun 25th, 2019

अदभुत

An amazing world of literature providing stories, poems, thoughts, reviews, biography in a lucid manner to quench the thrust of readers and make them responsive towards social, cultural and national pitfalls. साहित्य की एक ऐसी अदभुत दुनिया, जो कहानियों, कविताओं, विचारों, समीक्षाओं, जीवनचरित्रों के माध्यम से पाठकों की ज्ञान-पिपासा को न सिर्फ शांत करती है अपितु उन्हें सामाज, सांस्कृति और राष्ट्र के प्रति उत्तरदायी बनाने में सहायता भी देती है.

रिश्ते की बात

लड़के ने मेसेज लिखा आप पापा को यही फोटो व्हात्सप्प डीपी लगाने को कहिये. इसमें पापा बहुत सुन्दर लग रहे हैं.

आपको पापा से शादी करनी है कि मुझसे?

लड़के ने कहा “ये आपके पापा हैं इसलिए मुझे आपसे शादी करनी है.” इस पर लड़की ने कोई उत्तर नहीं दिया.

जब शर्मा जी घर पहुंचे तो पत्नी को सारी बात बताई फिर क्या था….

गोबर

आखिर यह कैसी विडंबना है कि हम आत्मशुद्धि के नाम पर शरीर चमकाते हैं और स्वच्छता के नाम पर अपना घर जबकि मन अन्दर से और घर बाहर से मैला ही रह जाता है. पार्षद जी ने मन ही मन ठान लिया कि वे आने वाले गणतंत्र दिवस पर मास्टर जी को सम्मानित करेंगे स्वच्छता में अपना योगदान देने के लिए.

योर कोट के कार्यक्रम से साहित्यिक गतिविधियों में तेजी आएगी – राकेश नाजुक

राष्ट्रीय कवि संगम के जिला अध्यक्ष गीतकार राकेश नाजुक,जिला संयोजक राजू मानसाता और मिस्टर मोहित

बात करते हैं!

बात करते हैं,समस्याओं की,शिकायतें,सुझाव,निदान,प्रयास करता कौन?पहल करता कौन?बात करते हैं! निशा,तिमिर,घोर अंधकार,जानते हैं सभी,जीते हैं

error: Content is protected !!